Homeइन्स्पाइरिंग स्टोरीजिंदगी मे बार-बार फैल...

जिंदगी मे बार-बार फैल होने से लेकर दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बनाने तक की 3 कहानियाँ

क्या आप जिंदगी मे सफल होना चाहते हो, लेकिन आपको बहूत सारे परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, जैसे घर के हालात न सही होना, फाइनैन्शल condition न सही होना, जिस फील्ड मे आपका interest है  उसमे काम न करने को मिलना, ऐसे तमाम तरह के प्रॉब्लेम्स। फिर चाहे आप एक स्टूडेंट हो, वर्कर हो,  नौकरी की तलाश कर रहे हो या फिर कोई बिजनस करना चाहते हो – हर एक फील्ड मे आपको असफलता, प्रॉब्लेम्स का सामना जरूर करना पड़ता है। ऐसे Situtation मे 70% से जादा लोग ऐसे प्रॉब्लेम्स का सामना नहीं कर पाते है और अंत मे वह हार मान जाते है।

Most Famous Failures In Hindi
Most Famous Failures In Hindi

लेकिन वही कुछ ऐसे लोग होते है उनके जिंदगी मे हालत कैसे भी क्यों न हो, उन्हे कितना भी असफलटावों, कठिनाइयों का सामना क्यों न करना पड़े  लेकिन वह कभी हार नहीं मानते है और उन्ही असफलाता हो वह अपनी सफलता मे ऐसे बदलते है की वह  हेडलाइन्स नहीं बल्कि सीधा इतिहास रचते है, इस Post मे मैंने 3 ऐसे महान लोगों की असफलता से भरी कहनी शेयर किया जीसे जानने के बाद आप सोचने पर मजबूर हो जाओगे की अगर ये सब अपनी जिंदगी मे इतना भयानक भयानक असफलताओं से लड़कर अगर इतिहास रच सकते तो फिर मैं भी इस दुनिया मे उखाड़ सकता हूँ। तो चलिए शुरू करते हैं.

स्टीव जॉब्स- एप्पल के संस्थापक

पहली कहानी एक ऐसे महान और Innovative सकस की है जिन्होंने बचपन से ही बहूत जादा कठिनाइयों का सामना कीये थे। जब उनका जन्म हुआ था तो उनकी माँ एक स्टूडेंट थी और अविवाहित थी, जिसकी वजह से उनकी माँ ने उन्हे दूसरे को गोंद दे दी।  जब वह 17 साल के हुए तो उन्हे लगा की उनके माता पिता का पूरा कमाई उनकी पढ़ाई मे खर्च हो जा रहा है जिसकी वजह से उन्होंने अपना कॉलेज ही छोड़ दिए थे, उस समय उनके पास कोई रहने के लिए कमरा भी नहीं था जिसकी वजह से वह अपने दोस्त के कमरे मे जमीन पर सोते थे।

Steve Jobs Failures in Hindi
Steve Jobs Failures in Hindi

उस समय वह अपना पेट भरने के लिए कोक की bottles बेचते थे जिससे उन्हे पैसे मिले, फिर बाद मे उन्होंने apple कंपनी की शुरुआत एक छोटे  से garage से कीये और 10 सालों मे ही एप्पल को 2 बिलियन डॉलर की कंपनी बना दिए। लेकिन इनके जीवन मे एक ऐसे बहूत बुरा समय आया जब इन्हे इनकी ही बनाई कंपनी से निकाल दिया गया। लेकिन उन्होंने इससे खुद को टूटने नहीं दिए और अगले पाच सालों मे नए Invovation और नए Idea के साथ NEXT और Pixar नाम की  दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बनाए,  जिसके बाद फिर से वह अपनी कंपनी एप्पल मे चले गए। जी हा मै बात कर रहा हूँ, दुनिया की सबसे बड़ी और invative company के फाउन्डर स्टीव जॉब्स की।

जैक मा – अलीबाबा के संस्थापक

दूसरी कहानी एक ऐसे जुनूनी या कह सकते है पागलपण भरे इंसान की है जो अपने जीवन मे मिडल स्कूल से लेकर, कॉलेज तक और कॉलेज से लेकर जॉब पाने तक बायर बार fail हुए, reject कीये गए। पर कभी हार नहीं माँने ,सबसे पहले वह प्राइमेरी स्कूल के टेस्ट मे दो बार फैल हुए, फिर 3 बार मिडल स्कूल मे फैल हुए,  फिर उन्होंने लगातार 3 साल universities मे भी apply कीये लेकिन वहा पर भी फैल हो गए,  उसके बाद उन्होंने jobs के लिए अप्लाइ करना शुरू कीये लेकिन जैसे उनके किसमत मे फैल होने को ही लिखा था। वह 30 बार नौकरी के लिए अप्लाइ की और 30 बार रिजेक्ट कर दिए गए।

Jack Ma Failures
Jack Ma Failures

फिर जब china मे KFC का स्टोर खुलने वाला था तो वह वहा पर भी Job के लिए अप्लाइ कीये लेकिन 24 लोगों मे 23 लोगों को job के लिए select कर लिया गया बस उन्हे reject कर दिया गया। वह havard university मे 10 बार अप्लाइ कीये और 10 बार वहा से भी रिजेक्ट कर दिए। कोई बहूत ही extraordinary,  बहूत ही पागल  इंसान होगा जो बचपन से करकर बार बार fail होने के बाद भी Giveup न करे और हिम्मत बनाए रखे। जी हा मैं बात कर रहा हूँ छिन के सबसे अमीर व्यक्ति और Alibabaa के Founder Jack Ma. क्या आपने भी  जीवन मे कभी इतना bआर फैल हुए है अगर नहीं तो फिर क्यों हार मान की आप कुछ नहीं कर सकते।

वाल्ट डिज़्नी – डिज़्नी ग्रुप के संस्थापक

और तीसरी कहानी एक इंसान की है जिन्होंने Animation की दुनिया मे अपने Creativity से क्रांति ला दी। पर इन्होंने अपने जिंदगी मे काफी जादा ठोकरे खाया है। बकपन से ही इन्हे चित्रकारी बहूत जादा पसंद था। वह स्कूल लाने से पहले और स्कूल के लौटने के बाद सड़कों पर घूम घूम कर अखबार बाटा करते थे,  इसप्रकार 6 सालों तक उन्होंने पढ़ाई के साथ साथ अखबार बाटने का भी काम कीये थे,  उसके बाद यह अपनी स्नातक की उपधि पाए थे फिर इन्होंने 1 साल तक ambulance चलाए थे।

Walt Disney Failures in Hindi
Walt Disney Failures in Hindi

मात्र 19 साल की उम्र मे उन्होंने अपनी कार्टून खोले लेकिन कोई भी कार्टून बिका नहीं, पैसे की कमी होने की वजह से उनके पास खाने के भी पैसे नहीं थे जिसकी वजह से उन्हे अपने दोस्त के साथ रहना पड़ा था,  जिंदगी मे उन्हे हर जगह से रीजेक्शन मिल रहा था। Newspaper की नौकरी से भी उन्हे निकम्मा और आलसी कहकर निकाल दिया था। लेकिन उन्हे कभी हार नहीं माना, मेहनत करते गए, फिर उन्होंने Disney brothers studio खोल और micky mouse बनाया जो पूरी दुनिया मे फेमस हुई। जी हा माइ बात कर रहा हूँ डिज़्नी ग्रुप के संस्थापक वाल्ट डिज़्नी की।

इन 3 extraordinary लोगों की जिंदगी की कहानी हम सभी को सीखती है की जिनदगी मे आपकी कितनी भी परेशानियों क्यों न हो, आप र क्योंन न फ़ाइल हो, कितनी बार भी क्योंन न आप रिजेक्ट हुए हो पर कभी भी हिम्मत मत हारना, हार मत मानाना क्योंकि जिंदगी मे या तो आप जीतोगे या तो सबक सीखोगे। आपको यह पोस्ट कैसा लगा, आपने इससे क्या सीखा, अपनी राय आप कमेन्ट मे जरूर बताइए। और इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करिए जिससे उन्हे भी जिंदगी मे आगे बढ़ने का, हार न मानने का Motivation मिले।

संबंधित पोस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

13 − ten =

नवीनतम